gratis homepage uhr website clocks
कोसी प्रमंडल (बिहार) से प्रकाशित इस प्रथम दैनिक ई. अखबार में आपका स्वागत है,भारत एवं विश्व भर में फैले यहाँ के तमाम लोगों के लिए यहाँ की सूचना का एक सशक्त माध्यम हम बनें, यही प्रयास है हमारा, आपका सहयोग आपेक्षित है... - सम्पादक

Scrolling Text

Related Posts with Thumbnails

रविवार

भूपेन्द्र ना. मंडल विश्वविधालय, मधेपुरा के पूर्व परीक्षा नियंत्रक का निधन।

भू.ना.मंडल विश्वविधालय, मधेपुरा के पूर्व परीक्षा नियंत्रक एवं स्नात्कोत्तर भौतिकी के पूर्व विभागाध्यक्ष- डा. राजकिशोर प्रसाद यादव का निधन आज पूर्वाह्न में प्रोफेसर कोलोनी स्थित उनके मधेपुरा निवास पर हो गया। वे कुछ दिनों से मुंबई स्थित टाटा मेमोरियल अस्पताल में इलाज करा रहे थे। वे भूपेन्द्र ना. मंडल विश्वविधालय, मधेपुरा में 1992 - 98 तक परीक्षा नियंत्रक के रूप में अपने दायित्व का निर्वहन किया तथा 2004 में सेवानिवृत हुए। उनके निधन पर मंडल विश्वविधालय के पूर्व विकास  पदाधिकारी एवं परीक्षा नियंत्रक डा. भूपेन्द्र नारायण यादव ‘मधेपुरी’ ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि इससे शिक्षा जगत मर्माहत है। 

कोसी में पायलट चैनल पर शीघ्र पहल करे केन्द्र : नीतीश


कोसी में पायलट चैनल को लेकर उत्पन्न हुई समस्या का एक सप्ताह में निराकरण नहीं हुआ तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रधानमंत्री से मिलेंगे। इस मसले को लेकर जल्द नेपाल से बात करने का आग्रह उन्होंने केन्द्र से किया है। साथ ही नेपाल सरकार को भरोसा दियाकि इससे उसका कोई नुकसान नहीं होने वाला है। वीरपुर में बराज का मुआयना करने के बाद पटना लौटे मुख्यमंत्री ने कहा कि कोसी बराज से नीचे लगभग 25 किमी की लम्बाई में नदी पूर्वी बांध से सटकर बह रही है। यह खतरनाक संकेत है। पूर्वी बांध पर कोई खतरा उत्पन्न हो, इससे पहले राज्य सरकार उपाय कर लेना चाहती है। नदी की धारा को मूल स्थान पर लाने के लिए पायलट चैनल जरूरी है। इससे पूर्वी तटबंध पर दबाव कम हो जाएगा और नेपाल से आने वाले अनियंत्रित बहाव को भी कम किया जा सकेगा। काम नेपाल क्षेत्र में होना है और वहां की सरकार ने इसका विरोध कर दिया है। ऐसे में केन्द्र को जल्द पहल करनी होगी। तटबंध के बचाव के लिए जो करना है, राज्य सरकार करेगी, लेकिन पायलट चैनल का मामला केन्द्र को ही सलटाना है। मुख्यमंत्री ने जल संसाधन मंत्री विजय कुमार चौधरी के साथ हवाई सर्वेक्षण के बाद बाढ़ सुरक्षात्मक तैयारी की स्थल पर ही समीक्षा की। उन्होंने कहा कि नेपाल के मीडिया ने गलतफहमी पैदा की है। पहले जब धारा मूल स्थान पर थी, तब नेपाल को कहां कष्ट था। हम आज भी वही स्थिति बनाना चाहते हैं। उनकी आशंका बेबुनियाद है। पहले नदी पश्चिम दिशा में बहती थी, अब उल्टी हो गई है। नदी का ज्यादा हिस्सा नेपाल में है, लेकिन खतरा बिहार के लोगों के समक्ष है। दो दिन पूर्व केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री सलमान खुर्शीद को स्थिति से अवगत करा दिया है। हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने भी नेपाल के प्रधानमंत्री से बात की है। हम इंतजार कर रहे हैं कि अपने प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री विदेश यात्रा से लौटकर आएं और अपने प्रभाव का इस्तेमाल करें।-हिन्दुस्तान

सोमवार

बिहार की रचनात्मता को समर्पित पूर्णिया से प्रकाशित अर्य संदेश।


बिहार से प्रकाशित समकालीन साहित्यक पत्रिकाओं में पूर्णिया से प्रकाशित साहित्यिक पत्रिका ‘अर्य संदेश’ का नया अंक (संपादक- अशोक कुमार ‘आलोक’) एक नायाब तोहफा है बिहार और विशेषकर कोसी क्षेत्र की साहित्यिक और सांस्कृतिक बिरादरी के लिए। 140 पृष्ठों के इस अंक में भाषान्तर के अन्तर्गत भूपेन्द्र सिंह की पंजाबी कहानी,  जय श्री राय, रंजना जायसवाल, रमेश नीलकमल, डा. पद्मा शर्मा, अरुण अभिषेक, कृतनारायण प्यारा की कहानियाँ। किरण अग्रवाल, डा. सकलदेव शर्मा, डा. निरूपमा राय, डा. उत्तिमा केशरी, डा. योगेन्द्र, अशोक अंजुम, महेन्द्र नेह एवं उषा यादव आदि की कविताएँ तथा आंचलिक पड़ताल के अन्र्तगत बच्चा यादव का आलेख - कोसी अंचल की सांस्कृतिक धरोहर: भगैत सहित राही मासूम ‘रजा’ पर केन्द्रित डा. शैलजा जायसवाल और डा. जनार्दन यादव जी का आलेख भी अंक को महत्वपूर्ण बनाता है।
अर्य संदेश’, संपादक: अशोक कुमार ‘आलोक’
संपर्क- ‘आश्रयिणी’, मिशन रोड (निकट किड्जी स्कूल)
दक्षिण भट्ठा, पूर्णिया- 854301. बिहार. मोबाइल - 09709496944
e.mail-ashokalok09@gmail.com

शनिवार

हत्या मामले में आनंद मोहन सहित 11 अन्य बरी


सहरसा। नौ साल पहले हुए मर्डर केस में आरोपी बनाए गए पूर्व लोकसभा सांसद आनंद मोहन सहित 11 अन्य लोगों को यहां एक स्थानीय अदालत ने बृहस्पतिवार को बरी कर दिया। फास्ट ट्रैक कोर्ट के न्यायाधीश राम प्रकाश ने पर्याप्त सबूतों के अभाव में उन्हें बरी कर दिया। गौरतलब है कि 22 जनवरी 2002 को पूर्व विधायक किशोर कुमार मुन्ना के बॉडीगार्ड घनश्याम सिंह की अज्ञात बंदूकधारियों ने विद्यापति नगर में हत्या कर दी थी, जिसमें आनंद मोहन सहित 11 अन्य लोगों को आरोपी बनाया गया था।- अमर उजाला

बुधवार

पंचायत चुनाव: कोसी व पूर्व बिहार में 70 फीसदी वोटिंग


 पंचायत चुनाव के सातवें चरण में सोमवार को कोसी और पूर्व बिहार में छिटपुट घटनाओं के बीच लगभग 70 फीसदी मतदान की खबर है। कड़ी धूप के बावजूद विभिन्न मतदान केंद्रों पर सुबह से ही वोटरों की लंबी-लंबी कतारें देखी गईं। सुपौल में परसागढ़ी दक्षिण पंचायत के बूथ नंबर 364 एवं 365 पर जोनल दंडाधिकारी के साथ तैनात पुलिस वाहन के शीशे को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। पूर्णिया जिले में बी. कोठी प्रखंड की निपनियां पंचायत में बूथ संख्या 169 एवं 170 पर एक-एक सील मतपेटियों पर असामाजिक तत्व द्वारा पानी डाल दिया गया। सहरसा जिले के महिषी प्रखंड में लगभग 60 प्रतिशत मतदान होने की खबर है। एसपी मो. रहमान ने बताया कि चुनाव के दौरान छह असामाजिक तत्वों को हिरासत में लिया गया। सुपौल जिले के त्रिवेणीगंज प्रखंड में छिटपुट घटनाओं के बीच 69 प्रतिशत मतदान होने की खबर है। मतदान के दौरान 122 लोगों को गिरफ्तार किया गया। जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि परसागढ़ी दक्षिण पंचायत के बूथ नंबर 364 एवं 365 पर जोनल दंडाधिकारी के साथ तैनात पुलिस वाहन के शीशे को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। मतदाताओं के उग्र भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा। थलहा गढ़िया दक्षिण पंचायत के बूथ नंबर 38 पर भी पुलिस और ग्रामीणों के बीच झड़प की खबर है। मधेपुरा जिले के सिंहेश्वर एवं घैलाढ़ प्रखंड में मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हो गया है। घैलाढ़ प्रखंड क्षेत्र में 71 तथा सिंहेश्वर प्रखंड क्षेत्र में 71 प्रतिशत मतदान हुआ। डीएम मिन्हाज आलम एवं एसपी वरुण कुमार सिन्हा मतदान केंद्रों का मुआयना कर चुनाव कर्मियों को निर्देशित करते रहे। पूर्णिया जिले के बी. कोठी एवं श्रीनगर प्रखंडों में क्रमश: 66 एवं 76 फीसदी वोटरों ने अपने मतों का प्रयोग किया। बी. कोठी प्रखंड की निपनियां पंचायत में बूथ संख्या 169 एवं 170 पर एक-एक सील मतपेटियों पर असामाजिक तत्व द्वारा पानी डाल दिया गया।- हिन्दुस्तान दैनिक

आज दैनिक हिन्दुस्तान (कोसी संस्करण ) में प्रकाशित खबर - अरविन्द को मिला प्रतिभा सम्मान

                               
   कोसी हुआ गौरवान्वित

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने किया अरविन्द श्रीवास्तव को सम्मानित!

 कोसी क्षेत्र के चर्चित युवाकवि लेखक एवं लाॅगर अरविन्द श्रीवास्तव को ‘हिन्दी ब्लॊग प्रतिभा सम्मान 2011’ से उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने 30 अप्रैल को  हिन्दी भवन, नई दिल्ली में सम्मानित किया। यह सम्मान समारोह हिन्दी साहित्य निकेतन और नुक्कड़ डाट काम की ओर से आयोजित था जिसमें  वरिष्ठ कवि अशोक चक्रधर, रामदरश मिश्र, प्रभाकर श्रोत्रिय , देवेन्द्र कुमार ‘देवेश’ आदि उपस्थित थे। बिहार से यह सम्मान पाने वाले अरविन्द श्रीवास्तव पहले व्यक्ति हैं। इन्हें यह सम्मान ब्लाग जगत में सकारात्मक योगदान एवं ‘न्यू मीडिया’ और इंटरनेट पर लिखे जा रहे साहित्य की समालोचना हेतु दिया गया। इस सम्मान में प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिन्ह एवं बहुमूल्य पुस्तकों  का सेट आदि भेंट किया गया। ज्ञातव्य है कि अरविन्द श्रीवास्तव ‘परिकथा’ पत्रिका में ‘ब्लाग’ शीर्षक से स्थायी स्तम्भ लिखते हैं तथा इंटरनेट पर इनका ब्लाग ‘जनशब्द’ एवं ‘कोसी खबर’ चर्चित रहा है।
    अरविन्द की इस उपलब्धि पर कौशिकी क्षेत्र हिन्दी साहित्य सम्मेलन के सचिव डा.भूपेन्द्र नारायण यादव ‘मधेपुरी’, डा. शांति यादव, मंजुश्री वात्सायन, शहंशाह आलम, डा. सिद्धेश्वर काश्यप, मुक्तेश्वर ‘मुकेश’, केदारनाथ गुप्ता, डा.जी.पी शर्मा, अशोक सिन्हा, मुसाफिर बैठा, अरुण नारायण, श्री गोविन्द प्रसाद शर्मा, इंदुवाला सिन्हा, भोला प्रसाद सिन्हा, डा. शमशाद आदि ने अपनी शुभकामनाएँ दी।